Day: July 9, 2018

पहले करें पानी की चिंता (पत्रिका)

– अर्चना डालमिया, टिप्पणीकार हाल ही जारी की गई एक रिपोर्ट के अनुसार नीति आयोग ने आशंका जताई है कि दिल्ली, बेंगलूरु और हैदराबाद सहित देश के 21 शहरों में वर्ष 2020 तक भूमिगत जल खत्म हो जाएगा। दूसरी ओर हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान का लक्ष्य 120 लाख शौचालयों का निर्माण […]

नवाज के सामने कुआं और खाई (हिन्दुस्तान)

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के लिए ‘सजा’ तो पिछले साल जनवरी में ही तय हो गई थी, जब सुप्रीम कोर्ट ने उनके खिलाफ खारिज किए गए ‘रेफरेन्स’ यानी मामले को फिर से खोलने का निर्देश दिया। ये ‘रेफरेन्स’पनामा पेपर लीक से जुडे़ हुए थे। विडंबना है कि जिस पनामा कांड में नवाज शरीफ […]

साइबर शोहदों से किनारा कीजिए (हिन्दुस्तान)

शशि शेखर सरकार लोगों को मुझसे प्रेम करने के लिए तैयार नहीं कर सकती, मगर भीड़ को मेरी जान लेने से जरूर रोक सकती है। तफरीहन, यूरोप की हसीन वादियों में घूम रहे मेरे एक आत्मीय को पिछले दिनों मार्टिन लूथर किंग जूनियर के ये शब्द बार-बार याद आए। वजह? उनसे बार-बार घुमा-फिराकर पूछा गया […]

संपादकीयः नवाज की नियति (जनसत्ता)

पाकिस्तान की जवाबदेही अदालत ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले में जो सजा सुनाई है उसका वहां की राजनीति पर गहरा असर पड़ेगा। जवाबदेही अदालत ने पनामा पेपर्स कांड से जुड़े एक मामले में नवाज शरीफ को दस साल की सजा सुनाई है, उन पर तिहत्तर करोड़ का […]

संपादकीयः चुनाव का समय (जनसत्ता)

लोकसभा और विधानसभाओं के चुनाव एक साथ कराने की सलाह लंबे समय से दी जाती रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस विचार को गंभीरता से आगे बढ़ाने का प्रयास किया है। इस सिलसिले में नीति आयोग, विधि आयोग और इस मामले से जुड़ी संसद की स्थायी समिति ने भी विचार किया है। अभी विधि […]

ठीक नहीं कर्ज माफी का सिलसिला : संजय गुप्त (नईदुनिया)

संजय गुप्त। कर्नाटक में जद(एस) और कांग्रेस की साझा सरकार ने अपने पहले बजट में किसानों की कर्ज माफी का ऐलान करके नए सिरे से यह रेखांकित किया कि अपने देश में वोट बैंक के लालच में ऐसे लोक-लुभावन कदमों का सिलसिला थमने वाला नहीं है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने 34 हजार करोड़ […]

क्‍या फिर किसी स्‍कूल बस हादसे पर खुलेगी नींद? – पंकज भसीन (नईदुनिया)

नया शिक्षण सत्र शुरू हो चुका है और स्कूलों में पूरे जोर-शोर से पढ़ाई चल रही है। गर्मी की छुटि्‌टयों में स्कूल की कक्षाओं के जो कमरे नीरस, उबाऊ, बोझिल और सन्नाटे से भरे रहे, वे अब फिर से बच्चों की उत्साह और आनंद से भरी किलकारियों से गूंजने लगे हैं। खेल के मैदानों में […]

वादे पर अमल (नईदुनिया)

आखिरकार केंद्र सरकार ने अपने वादे के तहत खरीफ की फसलों के बढ़े हुए न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित कर दिए। चूंकि यह वादा बजट में किया गया था, इसलिए इसकी प्रतीक्षा की जा रही थी कि खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य कब घोषित होते हैं? यह प्रतीक्षा इस जिज्ञासा के साथ हो रही थी […]

मिलकर काम करने की नसीहत (नईदुनिया)

– विजय संघवी दिल्ली सरकार बनाम उपराज्यपाल मामले में फैसला देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने संभवत: पहली बार केंद्र सरकार, राज्यों में संवैधानिक प्रमुख के रूप में नियुक्त उसके प्रतिनिधि यानी राज्यपाल या उपराज्यपाल तथा राज्य की निर्वाचित सरकारों के कामकाज के दायरों को परिभाषित किया है। हालांकि दिल्ली देश के अन्य राज्यों की तरह […]

Legalising gambling can help generate jobs, revenue (Hindustan Times)

Since the enforcement agencies have been unable to curb the spread of illegal gambling in the country, the Law Commission of India has recommended that the government should consider legalising gambling and betting as a regulated activity. In 2016, while examining the Justice RM Lodha panel’s recommendations on legalising betting in sport, triggered by allegations […]



संपादकीय:Editorials (Hindi & English) © 2016