Day: June 12, 2018

China’s growing role in Asian trade and its impact (Livemint)

The ongoing trade dispute between the US and China is of particular concern for emerging Asian economies which have prospered by being active participants in regional and global value chains (GVCs). Asia’s dependence on the triad (the US, Europe and Japan) as sources of technology, management and organization expertise—which are embodied in multinationals from these […]

Capitalism’s triple whammy for the working class (Livemint)

V. Anantha Nageswaran The crisis of 2008 is supposed to have heralded an end to the dominance of capital over labour. It has not turned out that way. In fact, things have become worse for the working class. It is a triple whammy for them now. Last week, in his recent Monetary Authority of Singapore […]

Simple rules for a complex world: GST classification (Livemint)

Shruti Rajagopalan As we approach the first anniversary of the goods and services tax (GST) reform, it is a good time to take stock of the problems in the system. Introducing GST in India was no small feat, but it has become increasingly clear that the system is too complicated and has led to a […]

..तो ऐसे करेंगे परास्त (राष्ट्रीय सहारा)

समय माओवादियों द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की हत्या करने की योजना वाले पत्रों के सामने आने से देश में सनसनी पैदा हुई है। माओवादी अपने पत्र में कह रहे हैं कि बिहार और दिल्ली हारने के बाद भी मोदी 15 राज्यों में सरकार बनाने में सफल हो चुका है। उसे रोका नहीं गया तो हमारे […]

यातना नहीं, सुधार की जगह बने जेलें (दैनिक ट्रिब्यून)

न शराब, न सिगरेट तंबाकू और न ही किसी तरह का वायरल पीलिया (हेपेटाइटिस) संक्रमण, फिर भी दर्दे-जिगर। जिगर की जकड़न और कैंसर भी, अर्ध चिकित्सकीय भाषा में लिवर (यकृत) फाइब्रोसिस और फैटी लिवर। कैंसर हो या फाइब्रोसिस इसकी शुरुआत होती है फैटी लिवर से, मतलब जिगर में शोथ,—आम लोगों के लिए डाक्टरों की भाषा […]

यातना नहीं, सुधार की जगह बने जेलें (दैनिक ट्रिब्यून)

वर्तिका नन्दा देश की 1382 जेलों की बदहालत ने अब सुप्रीमकोर्ट को सामने आने पर मजबूर कर दिया है। इस साल मई में सुप्रीमकोर्ट ने गृह मंत्रालय को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से जेलों पर अपनी स्थिति साफ करने के लिए कहा है। इस सिलसिले में महिला और बाल विकास मंत्रालय को राष्ट्रीय […]

संभावना भरी मुलाकात (दैनिक ट्रिब्यून)

कल तक एक-दूसरे को नेस्तनाबूद करने की धमकी देने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया प्रमुख किम जोंग उन जब सिंगापुर में मिले तो पूरी दुनिया में उत्सुकता बनी। इस ऐतिहासिक शिखर वार्ता के बाद हुए समझौते में जहां किम जोंग उन ने पूर्णत: परमाणु निरस्त्रीकरण के लिये प्रतिबद्धता जताई तो वहीं अमेरिका […]

AI garage? — on kickstarting artificial intelligence (The Hindu)

The NITI Aayog has published an ambitious discussion paper on kickstarting the artificial intelligence (AI) ecosystem in India. AI is the use of computers to mimic human cognitive processes for decision-making. The paper talks of powering five sectors — agriculture, education, health care, smart cities/infrastructure and transport — with AI. It highlights the potential for […]

Prevailing in Paris (The Hindu)

There is a tendency among tennis fans to take Rafael Nadal’s clay court dominance for granted. Ever since he won his first French Open in 2005, the Spaniard has single-handedly drained out almost all the suspense that Paris may have otherwise offered. On Sunday, when he held aloft the Roland Garros trophy for the 11th […]

असहिष्णुता का कल्पनालोक (दैनिक जागरण)

[बलबीर पुंज]। पहले दिल्ली के प्रधान पादरी अनिल काउटो तो अब गोवा के आर्कबिशप फिलिप नेरी फेराओ द्वारा ईसाई समाज को लिखा पत्र चर्चा में है। इन चिट्ठियों के अनुसार देश में बहुलतावाद, लोकतंत्र और संविधान खतरे में है। दलितों- अल्पसंख्यकों पर अत्याचार निरंतर बढ़ रहे हैं। चर्च ने स्वयं को मानवाधिकार और लोकतांत्रिक मूल्यों […]

संपादकीय:Editorials (Hindi & English) © 2016