Day: May 13, 2019

Democracy stimulus as slowdown fix (The Economic Times)

Should investors take fright at the latest bit of bad news on the economic front: the index of industrial production (IIP) has contracted marginally in March, for the first time in 21months? This comes in after the overall GDP growth for the December quarter trending down to 6.6% and the IMF forecasting a lower rate...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

पाकिस्तानी लड़कियों की चिंता (द खलीज टाइम्स, दुबई)

कुछ महीने पहले पाकिस्तानी मीडिया चीनी लड़कों की पाकिस्तानी लड़कियों से शादी को सोशल मीडिया के जरिए बन रही जोड़ियों के रूप में प्रचारित कर रहा था। अब यह एक कांड नजर आने लगा है। पाकिस्तान में मानव तस्करी अपने आप में एक बड़ी समस्या है, जिसके समाधान के लिए सरकार को समस्या की जड़ों...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

माफ करना याक (हिन्दुस्तान)

सिक्किम की पर्वतीय ऊंचाइयों पर बर्फ से घिरकर सैकड़ों याक की मौत बहुत दुखद और शर्मनाक है। दिसंबर से अप्रैल तक लगभग पांच महीने तक उत्तरी सिक्किम की मुगुथांग और युमथांग घाटियों में एक-एक कर केवल याक ही नहीं मरे होंगे, उनके साथ मनुष्य और उसकी कथित मानवता पर उनका विश्वास भी तिनका-तिनका मरा होगा।...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

श्रीलंका में इस्लामिक चरमपंथियों पर कस रहे शिकंजे से भारत को भी लेना चाहिए सबक (दैनिक जागरण)

[रंजन मुखर्जी]। पिछले कुछ समय से भारत के साथसाथ अन्य देशों में भी इस्लाम को लेकर सवाल बढ़ते जा रहे हैं। चंद कट्टरपंथी मुसलमानों के कारण इस्लाम शांति, भाईचारे एवं सौहार्दपूर्ण मजहब की छवि से दूर होता जा रहा है। कुछ लोग अपनी गलत सोच और विचारधारा को हावी करने पर तुले हुए हैं और...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

टला नहीं आतंक का खतरा: खुद को प्रासंगिक बनाए रखने के लिए आइएस किसी भी हद तक जा सकता है (दैनिक जागरण)

[ ब्रिगेडियर आरपी सिंह ]: पिछले महीने श्रीलंका आतंकी हमलों से दहल गया। राजधानी कोलंबो में 21 अप्रैल को चर्चों और होटलों को निशाना बनाकर किए गए इस आतंकी हमले में 290 लोग मारे गए और सैकड़ों घायल हुए। वर्ष 2009 में गृहयुद्ध की समाप्ति के दस साल बाद हिंद महासागर के इस द्वीप में...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ राजनीतिक दल नहीं है, बल्कि वह संपूर्ण समाज का संगठन है (दैनिक जागरण)

[ मनमोहन वैद्य ]: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अपनी स्थापना के समय से ही स्वयं को संपूर्ण समाज का संगठन मानता और बताता रहा है। देश को मिली स्वतंत्रता के पश्चात भी संघ की इस भूमिका में कोई अंतर नहीं आया। इसलिए स्वतंत्रता के पश्चात 1949 में संघ का जो संविधान बना उसमें भी यह स्पष्ट...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

इन देशों की तिकड़ी मिलकर अमेरिका को कर सकती है पस्त, जानें इनका कॉमन फैक्टर (दैनिक जागरण)

[डॉ. रहीस सिंह]। एशिया-प्रशांत क्षेत्र में कोरियाई प्रायद्वीप में माहौल फिर से युद्धोन्मादी होता दिख रहा है। कारण कुछ दिन पहले तक जो उत्तर कोरिया अमेरिका के साथ मिलकर कोरियाई प्रायद्वीप में शांति स्थापित करने के लिए प्रतिबद्ध दिख रहा था, वह अब उससे दूर होकर न केवल रूस की ओर खिसक रहा है, बल्कि...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

भ्रष्टाचार पर सार्थक बहस: पीएम को चोर बताना जवाब में राजीव पर निशाना साधने से क्या हासिल होगा (दैनिक जागरण)

[ संजय गुप्त ]: चुनावी लड़ाई तेज होते ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चौकीदार चोर है का अपना जो नारा उछालना शुरू किया था उसे वह किस हद तक ले गए, इसका एक प्रमाण गुरुग्राम की एक रैली में मिला। इस रैली में उन्होंने कहा कि सेना में काम करने वाले हरियाणा के जवानों...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

देश बदलने के लिए दलबदल: जो दल नहीं बदल सकता वह देश क्या खाक बदलेगा? (दैनिक जागरण)

[ अनुज त्यागी ]: स्वागत है। आज डिबेट में हमारे साथ हैं चरणदास जी, जो आलतू-फालतू दल के उम्मीदवार हैं और नैनसुख जी जो चलता-फिरता दल के सचिव हैं। फन्नी चैनल के लोकप्रिय कार्यक्रम ‘मंच के प्रपंच’ में आप दोनों का स्वागत है। चलिए अब कार्यक्रम की शुरुआत करते हैं। चरणदास जी आपसे पहला सवाल...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

देश में आम चुनाव को लेकर राजस्थान के अलवर कांड पर सस्ती राजनीति करना बिल्कुल भी ठीक नहीं (दैनिक जागरण)

राजस्थान के अलवर जिले में सामूहिक दुष्कर्म की घटना को लेकर हो रही राजनीति बिल्कुल भी ठीक नहीं। यह शर्मनाक वारदात राजनीतिक या चुनावी लाभ लेने का विषय नहीं, बल्कि ऐसा माहौल बनाने का है ताकि भविष्य में सभ्य समाज को विचलित करने वाली ऐसी घटनाओं पर लगाम लगे। इससे बुरी बात और कोई नहीं...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register