Day: March 15, 2019

Case Of Exploding Hashtags (The Indian Express)

Written by Saurabh Kapoor In 1913, a socialist monthly in the US published a controversial cartoon showing the head of a prominent wire service pouring bottles of “lies,” “slander” and “prejudice” into the well of news. The Masses called it, “Poisoned at the Source”. In a world of accelerating interconnectedness a hundred years later, plugged...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Why education doesn’t become a poll issue (The Indian Express)

Written by Krishna Kumar Decisions in the field of education are usually quite illegible to the public eye. Some of them look inconsequential. Others look so obviously correct that no one bothers to examine them. Their political consequences, therefore, are rare and insignificant. That is one big reason why education has little value as an...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Stranger in the Northeast (The Indian Express)

Written by Thangkhanlal Ngaihte Speaking at a book launch function in New Delhi on November 24, 2017, the BJP leader, Ram Madhav, said that unlike the RSS, the BJP is unashamedly interested in winning elections and gaining power. Sharing the dais with a slew of BJP ministers from the Northeast and RSS leaders, he was...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

The call of democracy (The Indian Express)

Written by Frazer Mascarenhas S J With elections around the corner, who would think of educators and their influence? At an event last week, Father Arturo Sosa SJ — the Superior General of the worldwide Jesuit organisation and a political scientist himself — met a few hundred alumni from Jesuit-run schools and colleges. The latter...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

चीन का हाथ आतंक के साथ: अजहर का बचाव करके वह पाक का इस्तेमाल भारत के खिलाफ करता रहेगा (दैनिक जागरण)

चीन ने भारतीय हितों और अंतरराष्ट्रीय जनमत के खिलाफ जाकर पाकिस्तान में पल रहे आतंकी सरगना मसूद अजहर का बचाव करके यही साबित किया कि वह भारत को नीचा दिखाने के लिए किसी भी हद तक जाने और यहां तक कि आतंकवाद की तरफदारी करने को भी तैयार है। उसने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

पढ़िए- भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़ती टेंशन का कौन से देश उठाते हैं लाभ (दैनिक जागरण)

[राहुल लाल]। वैश्विक महाशक्तियां दुनिया को पुन: हथियारों के मुहाने पर खड़ा कर रही हैं। शीत युद्ध की समाप्ति के बाद दुनिया में निशस्त्रीकरण को अप्रत्याशित सफलता मिली थी, लेकिन वर्ष 2000 के बाद आर्म्स ट्रेड को महाशक्तियों ने पुन: गति प्रदान की। इसके लिए महाशक्तियां दुनिया के विभिन्न क्षेत्रों में फैल रहे तनावों में...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

इंदिरा गांधी के बांग्‍लादेश और नरेंद्र मोदी के बालाकोट के पीछे ये थी बड़ी लेकिन अलग वजह! (दैनिक जागरण)

[हर्षवर्धन त्रिपाठी]। इंदिरा गांधी और नरेंद्र मोदी को लेकर ढेर सारी समानताएं समर्थक और विरोधी गिनाते रहते हैं। राजनीतिक कौशल से लेकर व्यक्तित्व तक नरेंद्र मोदी और इंदिरा गांधी में बहुत कुछ एक जैसा दिखता है। अब जब वर्ष 2019 के लोकसभा चुनावों की तिथि घोषित हो चुकी है, तो यह सवाल भी जायज है...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

दुनिया के सामने पाकिस्तान को बेनकाब करने के लिए ओआइसी एक बेहतर मंच (दैनिक जागरण)

[ रामिश सिद्दीकी ]: इस माह एक मार्च को ओआइसी यानी इस्लामिक सहयोग संगठन के विदेश मंत्रियों की बैठक के 46वें सत्र की बैठक संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबूधाबी में बुलाई गई। बैठक का विषय था, ‘50 साल का अंतर-इस्लामिक सहयोग: समृद्धि और विकास का खाका।’ इस्लामिक दुनिया के साथ भारत के जुड़ाव को...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

मध्यस्थता की कवायद अयोध्या विवादित मसले का समाधान आपसी समझबूझ से निकालने के लिए की गई है (दैनिक जागरण)

[ ए. सूर्यप्रकाश ]: अयोध्या में रामजन्मभूमि के विवादित मसले को सुलझाने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने हाल में तीन मध्यस्थ नियुक्त किए हैं। इस मसले से जुड़े पक्षों के लिए अदालत से बाहर कोई स्वीकार्य समाधान निकालने के लिहाज से इसे एक अंतिम अवसर माना जा रहा है। यह एक ऐसा मसला है जो...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

पुलवामा के पार गणतंत्र का विस्तार, 2022 तक भारत विश्व का सबसे बड़ा देश (दैनिक जागरण)

[शशांक मणि] पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारत द्वारा पाकिस्तान के आतंकी ठिकानों पर की गई एयर स्ट्राइक यह दर्शाती है कि भारतीय गणतंत्र का प्रवाह अपने चरम पर है। सीआरपीएफ के शहीद जवानों में शामिल मेरे जिले देवरिया के विजय मौर्या का शव जब गांव पहुंचा तो युवाओं का सैलाब उमड़ पड़ा।...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register