परदेश के क्लेश (दैनिक ट्रिब्यून)


सुरक्षा सुनिश्चित करे सरकार कभी प्रतिभाओं का सपना माने जाने वाले अमेरिका में जिस तरह से भारतीय नस्लवादी हिंसा का शिकार बन रहे हैं, उससे प्रवासी सहमे हुए हैं। दो भारतीय मूल के लोगों की हत्या व कुछ के घायल होने की खबरें चिंता बढ़ाने वाली हैं। दरअसल, खुली अर्थव्यवस्था में प्रतियोगिता से बाहर हुए…


This content is for Monthly Subscription members only.
Log In Register


Updated: March 8, 2017 — 6:39 AM