जय हो! जीका का शतक (पत्रिका)

राजीव तिवारी बधाई! कालीचरण सराफ जी। जयपुर में जीका मरीजों का शतक पूरा हो गया। आप और आपके चिकित्सा विभाग, महापौर और नगर निगम के सभी अधिकारियों ने शहर में मच्छरों की आवभगत में कोई कसर नहीं छोड़ी। उन्हें जीका ही नहीं डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया और अन्य वायरस जनित बीमारियां फैलाने का माकूल वातावरण उपलब्ध […]

सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर अनावश्यक विवाद (पंजाब केसरी)

—विजय कुमार केरल में शैव और वैष्णवों के बीच बढ़ते वैमनस्य के कारण एक मध्य मार्ग के रूप में अयप्पा स्वामी का सबरीमाला मंदिर बनाया गया था जो इन दिनों महिलाओं के प्रवेश पर प्रतिबंध को लेकर चर्चा में है। अयप्पा स्वामी को ब्रह्मïचारी माना गया है, इसी कारण मंदिर में 10 से 50 वर्ष […]

बात पशुओं के अधिकारों की भी हो (हिन्दुस्तान)

विजय गोयल, केंद्रीय संसदीय कार्य राज्य मंत्री कुछ समय पहले खबर आई कि इंदौर की पॉश कॉलोनी में एक तेंदुआ घुस आया, जिसने कई लोगों को घायल कर दिया। ऐसा कोई पहली बार नहीं हुआ, विभिन्न प्रकार के जंगली जानवरों द्वारा शहर में आकर उत्पात मचाने की खबरें आती रहती हैं। आखिर ऐसा क्यों हो […]

संकीर्ण नजर (जनसत्ता)

गुजरात में बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों के प्रति जैसी भावनाएं दिख रही हैं, वह गंभीर चिंता का विषय है। अब शायद उसका असर दूसरे व्यवहारों पर भी पड़ने लगा है। वडोदरा में सोमवार की रात बिहार के सात लोगों पर कुछ स्थानीय लोगों ने सिर्फ इसलिए हमला कर दिया कि उन्होंने लुंगी पहन […]

अनशन और अनदेखी (जनसत्ता)

गंगा को अविरल बनाए रखने की मांग लेकर अनशन कर रहे जीडी अग्रवाल यानी स्वामी सानंद की मृत्यु के बाद सरकार पर स्वाभाविक ही अंगुलियां उठने लगी हैं। इसलिए स्वामी सानंद की मृत्यु के बाद जब उनका समर्थन कर रहे संत गोपालदास ने भी जल त्याग दिया तो प्रशासन सतर्क हो गया। उन्हें उठा कर […]

Stop the democratisation of misinformation (Hindustan Times)

About a decade ago, an infant social media almost brought about democratic revolutions in countries such as Egypt, Iran and Tunisia, by connecting people and allowing an exchange of ideas in unprecedented ways. But as it grows in its reach, influence and sophistication, it is, in many ways, posing a challenge for the functioning of […]

The Vijayan government fails the Sabarimala test (Hindustan Times)

The moment the Supreme Court verdict permitting women of all ages to enter the Sabarimala temple was announced, it was clear that it would be bitterly opposed. But instead of acting firmly and decisively, the Kerala government allowed things to spiral out of control. It left the process of holding meetings with all stakeholders for […]

India’s neighbourhood first policy needs a strong push (Hindustan Times)

The controversy over a purported bid to assassinate President Maithripala Sirisena blew over after the Sri Lankan leader telephoned Prime Minister Narendra Modi and rejected reports about alleged Indian involvement in the plot. Ideally, such a controversy should never have arisen, given the long-standing ties between the two countries. The reports about the alleged plot […]

Nobel laureate William Nordhaus’ ideas for India (Livemint)

Dean Spears Climate change may be the greatest externality that human economies have ever suffered. When I take an Uber from CR Park to the Indian Statistical Institute in Delhi, the exhaust fills the air we all share. When the coal plant in Kanpur generates energy to electrify villages in Uttar Pradesh, the smoke diffuses […]

The anatomy of banking frauds (Livemint)

Fraud is a real operational risk for banks. As the latest Financial Stability Report of the Reserve Bank of India (RBI) shows, the Indian banking system reported about 6,500 instances of fraud involving over ₹30,000 crore in the last fiscal. Banking frauds attracted national attention when the Punjab National Bank reported earlier this year that […]



संपादकीय:Editorials (Hindi & English) © 2016