Piped water should be sustainable, too (The Economic Times)

The government’s intent to provide piped drinking water to all households by 2024 is admirable ambition. The ground reality is that some three-fourths of all households lack drinking water at their premises, and five out of six rural households do not have access to piped water supply. Streamlined water supply would hugely boost ease of...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

पाकिस्तान में एचआईवी ( डॉन, पाकिस्तान )

सिंध में एचआईवी संक्रमण का प्रकोप विगत महीनों में राष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियां बन गया था, और अब पंजाब में भी एचआईवी चिंता का विषय बन चुका है। वहां पांच जिलों में एचआईवी के नए मामले सामने आए हैं। एक हालिया रिपोर्ट के अनुसार, पंजाब में एड्स नियंत्रण कार्यक्रम की मुफ्त दवा सुविधा के तहत...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

नेपाल में चीन की भाषा ( द हिमालयन टाइम्स, नेपाल)

यह बात प्रकाश में आई है कि कुछ संभ्रांत स्कूल काठमांडू घाटी और उसके बाहर अनिवार्य विषय के रूप में छात्रों को चीनी या मंदारिन भाषा पढ़ा रहे हैं, पर सरकार और उससे जुड़े जिम्मेदार लोग इससे अनजान थे। स्कूल के समय के बाद मंदारिन पढ़ाना भले सही हो, मगर स्कूल समय में पढ़ाना अवैध...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

वीरता और कायरता का एक विराट सबक ( हिन्दुस्तान)

सोपान जोशी, स्वतंत्र पत्रकार आखिर हुआ क्या था? पवेलियन में विराट कोहली और महेंद्र सिंह धौनी बल्ला हिला-हिलाकर आजमा रहे थे। सुनने की कोशिश कर रहे थे कि वह रहस्यमय आवाज आई कहां से? रविवार को पाकिस्तान के खिलाफ 77 रन बनाने के बाद एक बाउंसर को डीप-फाइन-लेग पर उड़ाने के फेर में कोहली आउट...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

बीमार चिकित्सा तंत्र में हड़ताल ( हिन्दुस्तान)

विभूति नारायण राय, पूर्व आईपीएस अधिकारी पश्चिम बंगाल में पिछले कुछ दिनों से डॉक्टरों के साथ जो कुछ हो रहा है, वह तो देश के किसी हिस्से में कभी भी हो सकता है या कमोबेश हर जगह होता रहा है। राजधानी दिल्ली समेत अलग-अलग शहरों में सरकारी या निजी अस्पताल में इलाज के दौरान किसी...

This content is for Half-yearly Subscription, Yearly Subscription and Monthly Subscription members only.
Log In Register

अमन बहाली का समय : मैंने कश्मीर घाटी के अच्छे दिन भी देखे हैं और बुरे दिन भी (अमर उजाला)

तवलीन सिंह मैंने कश्मीर घाटी के अच्छे दिन भी देखे हैं और बुरे दिन भी। पिछले महीने मैं यह सोचकर श्रीनगर गई कि बुरे दिनों का दौर देखने को मिलेगा। ऐसा इसलिए कि दिल्ली में विशेषज्ञ पिछले तीन साल से यह प्रचार करते फिर रहे हैं कि इतना बुरा समय कश्मीर घाटी में पहले कभी...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

गुजरात मॉडल की वापसी (बिजनेस स्टैंडर्ड)

शेखर गुप्ता मोदी-शाह के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी का सत्ता प्रतिष्ठान उनकी कार्यशैली के लिए गुजरात मॉडल जैसे जुमले का इस्तेमाल करने वालों को पसंद करता है। उनके विरोधियों ने इसे सन 2002 के बाद की ध्रुवीकरण की राजनीति से जोड़ दिया है और वे इसका यही अर्थ निकालते हैं। परंतु गुजरात मॉडल की...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

कथनी को करनी में बदलें (बिजनेस स्टैंडर्ड)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिश्केक में आयोजित शांघाई सहयोग संगठन (एससीओ) सम्मेलन में खुले एवं गतिरोध रहित व्यापार की अहमियत और विश्व व्यापार संगठन की जरूरत के भारत के रुख को दोहराया। अब तक भारत ने कुछ देशों के बीच कारोबारी समझौतों से ज्यादा बहुपक्षीय समझौतों का समर्थन किया है। मोदी ने शुक्रवार को सम्मेलन...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

कृषि क्षेत्र पर राज्यों के बेरोकटोक नियंत्रण पर अंकुश की जरूरत (बिजनेस स्टैंडर्ड)

सुरिंदर सूद किसानों की समस्याओं पर गठित एम एस स्वामीनाथन की अध्यक्षता वाले राष्ट्रीय आयोग (नैशनल कमीशन ऑन फार्मर्स) ने कृषि क्षेत्र को राज्य सूची से स्थानांतरित कर समवर्ती सूची में रखने की सिफारिश की थी। अफसोस की बात है कि इस महत्त्वपूर्ण सिफारिश पर उतना ध्यान नहीं दिया गया है, जितनी जरूरत थी। कृषि...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Within reach – the $5 trillion economy (The Economic Times)

India as a $5 trillion economy by 2024 – that is the vision that Prime Minister Narendra Modi presented before the nation at the NITI Aayog. To achieve this would be hard, he said, but not impossible. He is right. The Indian economy is estimated to have been $2.74 trillion at market exchange rates in...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register