Day: July 4, 2018

जे चेलामेश्वर : ‘संन्यासी इन कोर्ट’ (प्रभात खबर)

II रविभूषण II वरिष्ठ साहित्यकार ravibhushan1408@gmail.com सुप्रीम कोर्ट के चार वरिष्ठ जजों- जस्ती चेलामेश्वर, रंजन गोगोई, मदन बी लोकुर और कुरियन जोसेफ की अभूतपूर्व, अप्रत्याशित प्रेस कांफ्रेंस (12 जनवरी, 2018) के बाद से अब तक जे चेलामेश्वर के विरोध की संख्या कम नहीं रही है. क्या सचमुच चेलामेश्वर के बयान उनकी ‘गरिमा के प्रतिकूल’ थे, […]

Needed: A relook at the Indian financial structure (Livemint)

Niranjan Rajadhyaksha The Reserve Bank of India (RBI) has said in its latest Financial Stability Report that Indian banks will continue to be under pressure because of their bad loans. Stress tests conducted by the central bank show that bad loans will continue to increase in the current financial year while capital adequacy will decline. […]

The Trump doctrine is linked to Obama’s legacy (Livemint)

Jeffrey Goldberg of The Atlantic, known for his long and hypnotic essay on the foreign policy doctrine of former US president Barack Obama, recently tried to explain the Donald Trump doctrine. The Trump doctrine, Goldberg concludes, can be best summed up as: “We’re America, Bitch.” Drawing a distinction between Trump and Obama, Goldberg writes: “(Obama) […]

The marriage penalty on women in India (Livemint)

Farzana Afridi, Kanika Mahajan The discourse on economic development has become increasingly gendered, in recognition of both the ethical construct of equality between men and women and the realization that women’s empowerment generates positive externalities. Despite the pronounced gendered approach to policy initiatives recently in India, the country slipped 21 places between 2016 and 2017 […]

Rural India has a message for the RBI (Livemint)

Pranjul Bhandari We attempt to answer two burning questions on India’s economy. In doing so, we argue that they are, in fact, connected in a way that has implications for central bank policy action. How serious is farm distress at the moment? And why is currency in circulation (CIC) rising? Data from India’s rural economy […]

What India must do to be a free trade champion (Livemint)

The tariffs and counter-tariffs levied by the US and its allies and rivals alike are mounting. Global trade growth surged last year and continues to do so. From a post-crisis average of 3%, it hit 4.7% last year and is expected to achieve 4.4% in 2019. But that, the World Trade Organization has warned, is […]

चुकानी होगी हमें पानी की कीमत (दैनिक ट्रिब्यून)

भरत झुनझुनवाला नीति आयोग ने चेतावनी दी है कि दिल्ली का भूमिगत जल दो वर्ष में समाप्त हो जायेगा। तापमान बढ़ने से वर्षा का पानी भूमि में कम ही समा रहा है। दिल्ली की जनसंख्या बढ़ने से पानी की खपत बढ़ रही है। यह परिस्थिति दिल्ली तक सीमित नहीं है। बेंगलुरु तथा हैदराबाद जैसे महानगरों […]

राजनीति की गांठें, सत्ता के बंधन (दैनिक ट्रिब्यून)

राजकुमार सिंह दावे के साथ नहीं कहा जा सकता कि बहुप्रचारित मिशन—2019, कुछ महीने पहले तो नहीं खिसक आयेगा, लेकिन उसके लिए बिसात बिछाने की शुरुआत हो गयी है। इस भ्रम में न रहें कि इस मिशन का देश-समाज की दशा-दिशा बदलने से कोई लेना-देना है। दरअसल जिसे मिशन का नाम दिया जा रहा है, […]

राजनीति की गांठें, सत्ता के बंधन (दैनिक ट्रिब्यून)

राजकुमार सिंह दावे के साथ नहीं कहा जा सकता कि बहुप्रचारित मिशन—2019, कुछ महीने पहले तो नहीं खिसक आयेगा, लेकिन उसके लिए बिसात बिछाने की शुरुआत हो गयी है। इस भ्रम में न रहें कि इस मिशन का देश-समाज की दशा-दिशा बदलने से कोई लेना-देना है। दरअसल जिसे मिशन का नाम दिया जा रहा है, […]

यह कैसा सम्मान (दैनिक ट्रिब्यून)

सोमवार को सिटी ब्यूटीफुल के अखबारों में प्रकाशित कुछ तस्वीरें हमारे समाज की सोच और कथनी-करनी में अंतर की सच्ची तस्वीर के साथ विचलित कर गईं। यह तस्वीर थी दिव्यांगजन सम्मान समारोह की। और दृश्य था हरियाणा के राज्यपाल के हाथों सम्मानित होने के लिए मंच की ओर अग्रसर एक दिव्यांग महिला की मशक्कत का। […]



संपादकीय:Editorials (Hindi & English) © 2016