Day: April 13, 2018

Crime in Kathua (The Hindu)

The 15-page chargesheet filed by the Jammu and Kashmir Police’s Crime Branch on the abduction, rape and murder of an eight-year-old girl in Kathua district is chilling. An unspeakably horrific crime has been overlain with an ugly form of communal politics, which has heightened the feeling of vulnerability among the Bakherwal nomadic community. The victim […]

Chennai loses out (The Hindu)

The shifting of Indian Premier League cricket matches out of Chennai reflects poorly on the Tamil Nadu administration. It is misleading to see the development as a victory for protesters espousing the Cauvery cause or as the inevitable result of the current political mood in Tamil Nadu. By conveying its inability to give adequate police […]

पीएसयू की नियुक्ति प्रक्रिया में दखलंदाजी की परंपरा (बिजनेस स्टैंडर्ड)

श्यामल मजूमदार ऐसा सिर्फ भारत में ही हो सकता है। अधिक स्पष्टता से कहें तो यह सिर्फ भारत के सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों (पीएसयू) में ही हो सकता है। सेंट्रल कोलफील्ड्स के प्रमुख गोपाल सिंह पिछले साल सितंबर से ही सबसे बड़े पीएसयू में शुमार कोल इंडिया लिमिटेड (सीआईएल) के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक (सीएमडी) […]

विनिर्माण क्षेत्र: खोखलापन भरने की कवायद (बिजनेस स्टैंडर्ड)

श्याम पोनप्पा एक समाज की प्रकार्यात्मक क्षमता कई तरह से खोखली हो सकती है। आगे पेश किए जाने वाले उदाहरणों से समझा जा सकता है कि खुद की बनाई नीतियां, नियमन या व्यवहार किस तरह हमारी क्षमता नष्ट कर देते हैं। इस स्थिति से बचने के लिए हमारी सरकारों एवं राजव्यवस्था को संरचनात्मक परिप्रेक्ष्यों पर […]

वंशवादी राजनीति का विस्तार (अमर उजाला)

मरिआना बाबर दक्षिण एशिया में वंशवादी राजनीति जारी है, जहां परिवार का नाम राजनीति में ब्रांड बन जाता है और वोट हासिल करने के लिए भुट्टो तथा शरीफ जैसे नामों का इस्तेमाल किया जाता है। भारत भी इससे अछूता नहीं है। इस बार मैं वंशवादी राजनीति की चर्चा इसलिए कर रही हूं, क्योंकि पाकिस्तान के […]

सही सिग्नल (बिजनेस स्टैंडर्ड)

ऐसी खबर है कि प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने रेल मंत्रालय के दो महत्त्वाकांक्षी प्रस्तावों को नकार दिया है। इनमें से पहला प्रस्ताव सन 2021-22 तक देश के रेल नेटवर्क के पूर्ण विद्युतीकरण का था। गत वर्ष सितंबर में रेल मंत्री बने पीयूष गोयल, जो उससे पहले बिजली राज्य मंत्री थे, का मानना था कि बचे […]

Governor Patel, stay firm on bank norms (The Hindu)

Reserve Bank of India governor Urjit Patel has done the right thing to rule out any dilution in the norms for bad loans in the face of lobbying by banks and Members of Parliament. Stringent rules make sense when serious attempts are being made to clear the bad loan mess, putting the bankruptcy code to […]

तेल और उसकी धार (नवभारत टाइम्स)

अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतें अभी तक मोदी सरकार की मदद ही करती आई हैं। खुद प्रधानमंत्री मोदी बाकायदा एक चुनाव सभा में इसे अपनी खुशनसीबी बता चुके हैं। डॉ. मनमोहन सिंह के दूसरे कार्यकाल के दौरान अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमत औसतन 99.43 डॉलर प्रति बैरल रही थी, लेकिन 2014 में मोदी […]

Loading...
संपादकीय:Editorials (Hindi & English) © 2016