Day: January 2, 2018

वर्ष 2017 के अंतिम दिन’ सी.आर.पी.एफ. पर बड़ा आतंकी हमला (पंजाब केसरी)

6 से अधिक वर्षों से पाक अधिकृत क्षेत्रों में चल रहे प्रशिक्षण शिविरों में प्रशिक्षण प्राप्त आतंकवादियों ने लगातार जम्मू-कश्मीर में ङ्क्षहसा का तांडव जारी रखा हुआ है तथा वे नागरिक आबादी के अलावा सुरक्षाबलों पर लगातार हमले करते आ रहे हैं। इसी का ही परिणाम है कि वर्ष 2017 में जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों से […]

अधूरे बदलाव और शोषण की कथाएं (हिन्दुस्तान)

विभूति नारायण राय, पूर्व आईपीएस अधिकारी पुलिस की कठोर, उबाऊ और यांत्रिक दैनंदिनी में कई बार आपका साबका मानवीय जीवन के ऐसे कारुणिक पक्ष से पड़ता है कि आप अंदर-बाहर भीग जाते हैं। बरसों तक वे आपकी स्मृति का अंग बने रहते हैं। ऐसा ही एक अनुभव 1989 के इलाहाबाद कुंभ के दौरान मुझे हुआ […]

आतंक का सिलसिला (जनसत्ता)

पिछले कुछ महीनों के दौरान जम्मू-कश्मीर में कई आतंकियों को मार गिराने या उनकी गिरफ्तारी से ऐसा लग रहा था कि वहां आतंकवादी संगठनों की गतिविधियों पर काबू पाने में कामयाबी मिल रही है। लेकिन शनिवार देर रात पुलवामा जिले में जिस तरह आतंकवादियों ने आत्मघाती हमला कर पांच जवानों की जान ले ली, उससे […]

नई भूमिका (जनसत्ता)

तमिल सिनेमा के सुपरस्टार रहे रजनीकांत ने नया साल आते ही अपने लिए नई भूमिका चुन ली है। रविवार को उन्होंने राजनीति में आने का एलान किया। इसी के साथ, बहुत लंबे समय से जब-तब लगाई जाती रही अटकलों पर विराम लग गया है। यों तमिलनाडु की राजनीति दशकों से अन्नाद्रमुक और द्रमुक के दो […]

अर्थव्यवस्था के समक्ष दोहरी चुनौती (नईदुनिया)

– डॉ. भरत झुनझुनवाला आर्थिक वृद्धि को पटरी पर लाना इस नए वर्ष की प्रमुख चुनौती होगी। पश्चिम बंगाल के वित्त मंत्री अमित मित्रा ने कहा है कि जीएसटी के कारण छोटे उद्योगों के व्यापार में 40 प्रतिशत की गिरावट आई है। मेरे आकलन में यह गिरावट जीएसटी ढांचे के कारण है। जीएसटी लागू होने […]

नागरिक पहचान का जतन (नईदुनिया)

असम में भारत के नागरिकों और अवैध रूप से वहां रह रहे विदेशी घुसपैठियों की पहचान करने का महती प्रयास एक महत्वपूर्ण मुकाम पर पहुंचा है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर तैयार हो रहे नागरिकों के रजिस्टर (एनआरसी) का पहला ड्राफ्ट नए साल की शुरुआत के साथ भारत के महापंजीयक एवं जनगणना आयुक्त के कार्यालय […]

Shall we resolve to face facts? (Livemint)

V. Anantha Nageswaran Newspapers have triumphantly published the news that the Indian economy will be the fifth largest by 2018, overtaking both the UK and France and trailing only the US, China, Japan and Germany. This is based on the likely value of India’s nominal gross domestic product (GDP), measured in US dollars. It is […]

Economic policy challenges in 2018 (Livemint)

The last leg of 2017 did not pan out exactly the way the Narendra Modi government would have wanted it to. It also showed the kind of policy challenges that the government will have to deal with in 2018. The goods and services tax (GST) continues to face implementation issues and distress in the agriculture […]

संपादकीय:Editorials (Hindi & English) © 2016