Day: October 11, 2019

ग्रामीण आर्थिकी सुधरने से दूर होगी सुस्ती (दैनिक ट्रिब्यून)

जयश्री सेनगुप्ता दुनियाभर में कई देश आर्थिक मंदी का सामना कर रहे हैं और आर्थिकी को फिर से सुदृढ़ करने हेतु अनेक राहतें दे रहे हैं। चीन ने नीचे जाते अपने बुनियादी निर्माण ढांचे को आर्थिक मदद देने की घोषणा की है ताकि ग्राहकों की क्रय शक्ति में वृद्धि हो सके। वहां बैंकों को अपने...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

निरंकुश राजशाही तले लोकतंत्र की कछुआ चाल (दैनिक ट्रिब्यून)

अरुण नैथानी पहली नजर में तो लगता है कि सऊदी अरब के ताकतवर युवराज मोहम्मद बिन सलमान रूढ़िवादी सऊदी अरब को आधुनिक बनाने की तरफ बढ़ चले हैं। उन्होंने सऊदी अरब के बंद समाज में सिनेमाहाल खोलने की इजाजत दी, संगीत पर से प्रतिबंध हटाया है, महिलाओं को कार चलाने की अनुमति मिली है, होटलों...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

बना रहे संवाद (नवभारत टाइम्स)

भारत आने से पहले चीन के राष्ट्रपति शी चिन फिंग ने पाकिस्तान और कश्मीर को लेकर जो कुछ कहा है, उससे बहुत परेशान होने की जरूरत नहीं है। केंद्र सरकार ने इस पर कोई प्रतिक्रिया न जताकर प्रौढ़ राजनय का परिचय दिया है। गौरतलब है कि बुधवार को शी ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

काबू में आए तो बात बने (राष्ट्रीय सहारा)

जयंतीलाल भंडारी यकीनन काले धन के खिलाफ लड़ाई में भारत को बड़ी सफलता मिली है। हाल ही में 7 अक्टूबर को स्विस बैंक में जमा भारतीयों के काले धन से जुड़ा पहले दौर का विवरण स्विट्जरलैंड ने भारत को सौंप दिया है, जिसमें सक्रिय खातों की भी जानकारी शामिल है। स्विस बैंक ने जो जानकारियां...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

जीएसटी संग्रह बढ़ाने के उपाय के साथ ही आर्थिक गतिविधियों की तेजी पर सरकार को रखनी होगी नजर (दैनिक जागरण)

केंद्र सरकार के लिए वस्तु एवं सेवा कर यानी जीएसटी के संग्रह में लगातार कमी का संज्ञान लेना आवश्यक हो गया था। वह इसकी अनदेखी नहीं कर सकती थी कि सितंबर में जीएसटी संग्रह घटकर 91,916 करोड़ रुपये रह गया, जो अगस्त की तुलना में 6,286 करोड़ रुपये कम है। यह लगातार दूसरा महीना है...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

परफॉरमेंस ठीक नहीं तो न घबराएं IIT के छात्र-छात्राएं, यह खबर पढ़कर डर हो जाएगा छूमंतर (दैनिक जागरण)

[रिजवान अंसारी]। IIT council हाल ही में आइआइटी काउंसिल की 53वीं बैठक में कई अहम फैसले लिए गए। इन सभी फैसलों में एक फैसला खासा चर्चा में है। इसके मुताबिक आइआइटी अध्ययन में ‘कमजोर छात्रों’ को तीन साल बाद सम्मानपूर्वक ढंग से संस्थान छोड़ने की अनुमति देगी। इस नई व्यवस्था में कमजोर छात्रों को बीच...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Environmental Protection Responsibilities: अफसोस! शिकायत सभी को, पर पर्यावरण के प्रति जिम्मेदारी समझने की फुरसत किसी को नहीं (दैनिक जागरण)

डॉ. मोनिका शर्मा। Environmental Protection Responsibilities बीते दिनों अभिनेत्री कंगना रनोट ने एक साधारण सूती साड़ी पहनकर सार्वजनिक उपस्थिति दर्ज कराई। यह सहज तस्वीर वायरल होने पर कंगना ने कहा कि जरूरत से ज्यादा संसाधनों का उपयोग करने वाली आज की पीढ़ी एक आम साड़ी पर गौर कर रही है। कंगना ने फैशन और फिल्मी...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

दुष्प्रचार करने वालों का एजेंडा हुआ नाकाम, विजयादशमी पर मोहन भागवत ने समावेश और भाईचारे का दिया संदेश (दैनिक जागरण)

[अद्वैता काला]। सरसंघचालक के विजयादशमी भाषण को लेकर खासी उत्सुकता रहती है। स्वाभाविक है कि इस बार भी यह कोई अपवाद नहीं था। डॉ. मोहन भागवत के विजयादशमी भाषण के बाद तमाम तरह की चर्चाओं के दौर शुरू हो गए। सरसंघचालक के विजयादशमी भाषण की परंपरा बहुत पुरानी है जो प्रथम सरसंघचालक डॉ. हेडगेवार के...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

इतिहास की गलती सुधारने का समय, पाक अल्पसंख्यकों के प्रति भारत को निभाना होगा अपना दायित्व (दैनिक जागरण)

[अवधेश कुमार]। पाकिस्तानी संसद ने एक विधेयक को पेश होने से पहले ही खारिज कर दिया जिसमें संविधान संशोधन के जरिये गैर मुस्लिमों को प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति बनने की अनुमति देने का प्रावधान था। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के ईसाई सांसद डॉ. नवीद आमिर जीवा इसके लिए संविधान संशोधन कराना चाहते थे। इसकी चर्चा करते ही...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

‘मॉब लिंचिंग’ बारे मोदी को पत्र लिखने वालों के विरुद्ध देशद्रोह का मामला बंद करना सही कदम (पंजाब केसरी)

देश के अनेक भागों में पिछले कुछ वर्षों से भीड़ की हिंसा की कुप्रवृत्ति (मॉब लिंचिंग) में भारी वृद्धि हुई है और उत्तेजित लोगों की भीड़ ने गौ तस्करी, बच्चों के अपहरण, चोरी आदि के संदेह में अनेक लोगों को पीट-पीट कर मौत के घाट उतार दिया। ऐसी घटनाओं को रोकने में प्रशासन की विफलता...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register