Day: October 10, 2019

राजयोग के लिए निष्ठाओं के योग-संयोग (दैनिक ट्रिब्यून)

राजकुमार सिंह प्रोफेसर संपत सिंह भी बुधवार को भाजपाई हो गये। चौधरी देवीलाल की अगुवाई में राजनीति शुरू करने वाले संपत कांग्रेसी तो बहुत पहले हो गये थे, पर अब भाजपाई हो गये। देवीलाल द्वारा गठित इनेलो छोड़ने की वजह उनके राजनीतिक वारिस-पुत्र ओमप्रकाश चौटाला से पटरी न बैठ पाना रहा तो कांग्रेस को अलविदा...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

नींद उड़ाती चिंताओं का समाधान हो (दैनिक ट्रिब्यून)

हरीश बड़थ्वाल अच्छे मानसिक स्वास्थ्य के मायने हैं मन सुचारु रूप से कार्यरत रहे, सामान्य तनाव तथा प्रतिकूल परिस्थिति में भावात्मक व व्यवहारगत संतुलन डगमगाए नहीं, निजी क्षमताओं का दोहन किया जाता रहे, अन्य व्यक्तियों से तालमेल संतुष्टिदाई हो, हालात के अनुसार स्वयं को ढाला जा सके। गुमसुमी, बुझदिली, हर वक्त चिड़चिड़ाते, खिसियाए रहना या...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

ग्लोबल सुस्ती (नवभारत टाइम्स)

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने भी मान लिया है कि दुनिया स्लोडाउन की ओर जा रही है। आईएमएफ प्रमुख क्रिस्टालिना जॉर्जिएवा ने कहा कि वैश्विक अर्थव्यवस्था में आर्थिक सुस्ती देखी जा रही है, जिसके कारण 90 फीसदी देशों की विकास की रफ्तार अगले साल धीमी रहेगी। लेकिन इसके साथ उन्होंने यह भी जोड़ा कि भारत...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

प्रखर धर्मनिरपेक्ष (राष्ट्रीय सहारा)

भारत डोगरा हमारा देश विभिन्न धर्मो का मिलाजुला देश है। दुर्भाग्य से कुछ ताकतें ऐसी हैं, जो विभिन्न धर्मो की एकता और सद्भावना के विरुद्ध निरंतर प्रचार करती हैं। उन्होंने सोच लिया है कि बहुसंख्यक समुदाय के बड़े हिस्से को दूसरे धर्मो के विरुद्ध भड़का कर देश में अपना प्रभाव बढ़ाया जा सकता है, सत्ता...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Bigg Boss Season 13: मनोरंजन के नाम पर परोसी जा रही फूहड़ता, सरकार उठाए कदम (दैनिक जागरण)

[पीयूष द्विवेदी]। तीन नवंबर, 2006 को बिग बॉस कार्यक्रम की शुरुआत हुई थी। वह इसका पहला सीजन था, जिसमें संचालक (होस्ट) की भूमिका बॉलीवुड अभिनेता अरशद वारसी ने निभाई थी। घर के भीतर पंद्रह लोगों के साथ लगभग तीन महीने चले इस कार्यक्रम ने ऐसी लोकप्रियता पाई कि इसके एक के बाद एक सीजन आने...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

चीन को संदेश देने का समय: मोदी-चिनफिंग वार्ता से मैत्री भाव बढे़गा और रिश्तों में सुधार आएगा (दैनिक जागरण)

[ विवेक काटजू ]: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ दूसरी अनौपचारिक वार्ता के लिए चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग भारत आ रहे हैं। दोनों नेता 11-12 अक्टूबर को तमिलनाडु के मामल्लापुरम में मिलेंगे। दोनों के बीच ऐसी पहली वार्ता गत वर्ष अप्रैल में चीन के वुहान में हुई थी। इन बैठकों का मकसद यही है कि...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

राष्ट्रीय पोषण सर्वेक्षण ने खोली पोल: देश में शिक्षित समाज भी बच्चों के पोषण को लेकर सजग नहीं (दैनिक जागरण)

[ एनके सिंह ]: देश में पहली बार किए गए राष्ट्रीय पोषण सर्वेक्षण ने शिशुओं और किशोरों के पोषण को लेकर जो रिपोर्ट जारी की है उस पर नीति-नियंताओं के साथ आम जनता को भी ध्यान देना चाहिए, क्योंकि यह कई ऐसे तथ्य प्रकट करते हुए बताती है कि संपन्न और शिक्षित लोग भी बच्चों...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

जब सुप्रीम कोर्ट ने पूछा इंटरनेट पर किसने की आपत्तिजनक सामग्री फैलाने की शुरुआत (दैनिक जागरण)

[अभिषेक कुमार सिंह]। कानूनन सोशल मीडिया पर कई प्रकार की टीका-टिप्पणियों को साइबर अपराध माना जाता है। ऐसे विचार जो कंप्यूटर-मोबाइल आदि के जरिये इंटरनेट के माध्यम से समाज की समरसता को भंग करें, परस्पर द्वेष पैदा करें, चाइल्ड-पोर्न को बढ़ावा दें, धोखाधड़ी-गबन या किसी की निजता का उल्लंघन करते हों, कानून की परिधि में...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

विश्व बाजार में धमक बढ़ाए भारत, RCEP जैसे समूह की ओर बढ़ा रहा कदम (दैनिक जागरण)

[सुषमा रामचंद्रन]। आपको यह जानकर शायद हैरानी हो कि वैश्विक व्यापार में भारत की हिस्सेदारी महज दो फीसद है। यदि भारत अंतरराष्ट्रीय अर्थव्यवस्था में निर्णायक भूमिका निभाना चाहता है तो उसे अपना यह स्तर बढ़ाना ही होगा। गौरतलब है कि ऐसे ज्यादातर देश जिनकी वैश्विक व्यापार में बड़ी भूमिका है, उनकी विकास दर भी उच्च...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

देश को दिशा दिखाने वाली कांग्रेस के गिरे मनोबल को बढ़ाने के लिए लोकप्रिय और सक्षम सेनापति चाहिए (दैनिक जागरण)

इन दिनों देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस में क्या हो रहा है और वह किधर जा रही है, यह शायद कोई भी और यहां तक कि कांग्रेसी नेता भी नहीं जानते। इस पर हैरान ही हुआ जा सकता है कि हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनावों की घोषणा होने के चंद दिन बाद राहुल...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register