Day: September 18, 2019

संपादकीय: संवेदनहीन सरकार (जनसत्ता)

पिछले साल बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में जब एक बालिका गृह में चौंतीस लड़कियों के बलात्कार और उन पर अत्याचार का मामला सामने आया था, तो यह समूचे देश में चिंता का विषय बना था। समूची घटना के जिस तरह के ब्योरे उजागर हुए थे, उससे स्वाभाविक ही यह सवाल उठा था कि क्या किसी...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

संपादकीय: घाटी के हालात (जनसत्ता)

कश्मीर में हालात सामान्य बनाने के लिए सुप्रीम कोर्ट के कदम से यह उम्मीद बंधती है कि घाटी के जिलों में जनजीवन जल्द पटरी पर लौटेगा। हालांकि सर्वोच्च अदालत ने केंद्र सरकार को कोई निर्देश नहीं दिया है, लेकिन जो कहा है वह भी कम महत्त्वपूर्ण नहीं है। प्रधान न्यायाधीश की अध्यक्षता वाले पीठ ने...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

जनसत्ता विशेष: …ताकि याद आएं पुरखे (जनसत्ता)

वेद-पुराणों में वर्णित श्राद्ध का भाव हमारे वास्तविक आचरण में उतर जाए तो सारा विश्व एक कुटुंब बन जाए। ऐसे में जरूरी है कि युगों से संचित जटिल बातों को त्यागते हुए हमें धार्मिक कृत्यों एवं उत्सवों के निहितार्थ को समझकर उनका सामाजिक प्रयोग करना चाहिए। कोई आप से पूछे कि आप कौन हैं? आपके...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

संपादकीय: ऊर्जा की कूटनीति (जनसत्ता)

संजीव पांडेय नेपाल-भारत के बीच हाल में शुरू हुई तेल पाइप लाइन दक्षिण एशिया के कई देशों के लिए सुखद संदेश है। यह पाइप लाइन दक्षिण एशिया की पहली तेल पाइप लाइन है जो दो मुल्कों को आपस में जोड़ रही है। इसका आर्थिक महत्त्व निश्चित तौर पर नेपाल के लिए है। लेकिन बात यहीं...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

हॉन्ग कॉन्ग में उपद्रव का चीन पर प्रभाव (बिजनेस स्टैंडर्ड)

श्याम सरन हॉन्ग कॉन्ग में राजनीतिक अशांति बदस्तूर जारी है और लगातार हिंसात्मक एवं चीन-विरोधी रुख व्याप्त है। बढ़ते विरोध को दबाने के लिए चीन की सेना के निर्मम एवं रक्तरंजित तरीकों का सहारा लेने की आशंका अधिक बलवती होती जा रही है। अमेरिकी दूतावास की तरफ कूच करते समय प्रदर्शनकारियों ने अपने हाथों में...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

कश्मीर की लड़ाई जलालाबाद और काबुल में! (अमर उजाला)

प्रदीप कुमार अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की अतीत की कई घोषणाओं की तरह तालिबान से गुप्त वार्ता रद्द करने में भी कोई ठोस तर्क नहीं दिखाई पड़ता। ट्रंप ने तालिबान, अफगानी राष्ट्रपति अशरफ गनी और अमेरिकी प्रशासन के प्रतिनिधियों की वार्ता शुरू होने से ठीक पहले यह फैसला किया। उन्होंने कहा, ‘अगर तालिबान महत्वपूर्ण शांति...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

राजनीतिक वितंडा और हिंदी विरोध, हावी न हों जाएं विदेशी भाषाएं (अमर उजाला)

उमेश चतुर्वेदी दलगत सोच और प्रभावी इलाके की स्थानीय भावनाओं के नाम पर व्यापक राष्ट्रीय हित और स्वाभिमान को नकारना आज की राजनीति का प्रिय शगल बन गया है। गणतांत्रिक संविधान के लागू होने के महज पंद्रह साल बाद से हिंदी का जो वितंडा खड़ा किया गया, वह मौजूदा राजनीति के लिए जैसे जरूरी कर्म...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

GST Council, focus on the big picture (The Economic Times)

The Goods and Services Tax (GST) Council should resist the pressure to offer sectoral relief and focus on systemic reform of the tax: widen the tax base and bring down rates, bringing the peak rate down to 18% exclusive of ‘sin’ cesses. Fewer (and lower) rates, a broader base and a simpler tax structure would...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Oil not as slippery as it might appear (The Economic Times)

Notwithstanding the flare-up in oil futures following Saturday’s drone strikes on key Saudi Arabian crude assets, oil prices are unlikely to hurt either India’s inflation or the fisc in any serious fashion. Global oil demand is muted against the backdrop of economic uncertainty and continuing trade frictions, and there’s been a surge in petroleum output...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

तूफान से सबक (हिन्दुस्तान)

द जापान टाइम्स, जापान जापान जिस तरह से बड़ी त्रासदी का शिकार हुआ है, क्या वह रग्बी वल्र्ड कप और 2020 ओलंपिक के आयोजन के लिए तैयार है? पिछले सप्ताह तूफान ने जिस तरह से जापान में तबाही मचाई है, उससे यह साफ पता चल गया है कि टोक्यो में किस तरह से त्रासदी की...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register