Day: June 7, 2019

Analysis: कांग्रेस पार्टी का आत्‍मघाती रवैया, राहुल गांधी को उठाना पड़ा बड़ा खामियाजा (दैनिक जागरण)

[अवधेश कुमार]। कांग्रेस संसदीय दल की बैठक से बाहर आई खबरें केवल कांग्रेस के लिए नहीं, भारतीय लोकतंत्र के भविष्य की दृष्टि से भी चिंता पैदा करने वाली है। देश में सबसे ज्यादा समय तक शासन करने वाली पार्टी दो करारी पराजय के बाद भी या तो यह समझ नहीं रही या समझने के लिए...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

सौ दिवसीय एजेंडा: मोदी सरकार के कामकाज की सफलता ही मंत्रियों के उनके पदों पर बने रहने का पैमाना होना चाहिए (दैनिक जागरण)

[ जीएन वाजपेयी ]: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नई मंत्रिपरिषद के गठन के बाद से तमाम जानकार मोदी सरकार को सलाह देने में लगे हुए हैैं। एक भारतीय नागरिक के रूप में मैं भी सरकार को यह सुझाव देना चाहता हूं कि शुरुआती सौ दिनों के लिए उसका एजेंडा क्या होना चाहिए। भारतीय...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

राजनीति गणित नहीं, बल्कि केमिस्ट्री होती है, इसे उत्तर प्रदेश की जनता ने साबित करके दिखाया (दैनिक जागरण)

[ मालिनी अवस्थी ]: लोकसभा चुनावों के नतीजे सामने आने के बाद से ही इस पर हैरानी जताई जा रही है कि आखिर 80 लोकसभा सीटों वाले उत्तर प्रदेश में सामाजिक केमिस्ट्री के आगे जातीय अंकगणित कामयाब क्यों नहीं हो सका? इस सवाल का जवाब देने के लिए दो प्रसंगों का उल्लेख आवश्यक है। पहला,...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Analysis: इंडोनिशिया-भारत के मधुर संबंध और दोनों देशों में एक-एक नरेंद्र मोदी (दैनिक जागरण)

[रहीस सिंह]। पिछले दिनों जोको विडोडो को विश्व के तीसरे बड़े लोकतंत्र यानी इंडोनेशिया का राष्ट्रपति फिर से चुना गया। उन्होंने राष्ट्रपति चुनावों में लगातार दूसरी बार जीत हासिल की है। इंडोनेशियाई निर्वाचन आयोग के अनुसार ‘इंडोनेशियन डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ स्ट्रगल’ पार्टी के जोको विडोडो ने अपने प्रतिद्वंद्वी एवं सेवानिवृत्त जनरल प्राबोवो सुबियांतो को पराजित...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

A blueprint to frame the contours of Research 4.0 (Livemint)

Kapil Vishwanathan, Kiran Mazumdar-Shaw As the adage goes, an expert is someone who knows more and more about less and less, until everything is known about nothing at all. Indeed, many of the major breakthroughs of the past decades have come as a result of deep research specialization in specific disciplines. However, this approach has...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

दिशाहीन कांग्रेस: चुनाव में करारी हार के बाद लोगों की नजरें पार्टी की नीति में व्यापक बदलाव पर टिकी हैं (दैनिक जागरण)

लोकसभा चुनावों के नतीजे आने के बाद जब यह उम्मीद की जा रही थी कि कांग्रेस अपनी रीति-नीति में व्यापक बदलाव लाएगी तब वह दिशाहीनता से ग्रस्त दिख रही है। किसी को नहीं पता कि राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद छोड़ने की जो पेशकश की थी उसका क्या हुआ? इस बारे में भी कोई खबर...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Trump’s miscalculation on trade could prove costly for America (Livemint)

Zhang Jun Just when a trade agreement between the US and China appeared to be in sight, negotiators found themselves back at square one. The immediate reason for the disruption was China’s insistence on a substantially rewritten draft agreement, which, according to US President Donald Trump’s administration, reneges on previously agreed terms. But the root...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Digital exclusion in this digital world is a real danger (Livemint)

Leslie D’Monte It’s a cliché to state that technologies both transform and disrupt the lives of people and companies. Hence, I will be stating the obvious when I insist that this trend will continue at an even faster clip. However, if legislation does not keep pace with cutting-edge digital technologies—which it is unlikely to do,...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

वाद न विवाद, सिर्फ अवसरवाद (दैनिक ट्रिब्यून)

देश के वर्तमान हालात को देखकर ‘भारतीय अवसरवादी पार्टी’ नाम से एक राजनीतिक दल बनाये जाने की आवश्यकता है। वैसे तो हमारे यहां सभी दल अवसरवादी हैं, परन्तु अब जो दल बने, वह खुले रूप से ही अवसरवाद का नारा देकर सत्तारूढ़ हो तो भारतीय जनता को किसी प्रकार का मुगालता भी नहीं रहेगा तथा...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

विचारहीन राजनीति का अवसान (प्रभात खबर)

भूपेंद्र यादव सांसद, राज्यसभा व राष्ट्रीय महामंत्री, भाजपा चुनाव परिणाम आने के बाद देश की राजनीति में बड़े परिवर्तन देखने को मिल रहे हैं. देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में चुनाव पूर्व बना समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी का महागठबंधन टूट गया. हालांकि, यह गठबंधन टिकने वाला नहीं है, इसको लेकर चुनाव...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register