Day: May 22, 2019

डिजिटल रोजगार की चमकीली संभावनाएं (दैनिक ट्रिब्यून)

जयंतीलाल भंडारी इन दिनों दुनिया के अर्थ विशेषज्ञ यह कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि डिजिटल अर्थव्यवस्था के तहत रोजगार के मौके भारत की नयी पीढ़ी की मुट्ठियों में आने का चमकीला परिदृश्य तेजी से आगे बढ़ा है। हाल ही में मैकिंजी ग्लोबल इंस्टीट्यूट द्वारा प्रकाशित की गई रिपोर्ट ‘डिजिटल इंडिया : टेक्नोलॉजी टू...

This content is for Welcome Subscription Special  offer, Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

हकीकत सामने आने से पहले के झटके (दैनिक ट्रिब्यून)

कुमार विनोद एक बार की बात है, किसी शादी-ब्याह में तीसरा फेरा होते ही पंडित जी ने विवाह संपन्न होने की घोषणा कर दी। वर और वधू दोनों ही पक्षों द्वारा कड़ा एतराज किये जाने पर पंडित जी का तर्क था कि शादी टिकनी है तो तीन फेरों में ही टिक जाएगी अन्यथा सात छोड़ो,...

This content is for Welcome Subscription Special  offer, Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

सहमति से तलाशें नये विकल्प (दैनिक ट्रिब्यून)

अनूप भटनागर लोकसभा और राज्यों की विधानसभाओं के चुनाव कई चरणों में कराये जाने की वजह से प्रशासन और जनता के सामने आ रही दिक्कतों को देखते हुए अब इसे लेकर असहमति के स्वर उभरने लगे हैं। राजनीतिक दल चाहते हैं कि निर्वाचन आयोग सर्वदलीय बैठक बुलाकर इस विषय पर विस्तार से चर्चा करके सर्वमान्य...

This content is for Welcome Subscription Special  offer, Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

मोबाइल पर आफत (नवभारत टाइम्स)

लगता है, अमेरिका और चीन का ट्रेड वॉर दुनिया भर के आम उपभोक्ताओं पर भी सीधा असर डालने वाला है। चीन के कारोबार के खिलाफ अमेरिकी प्रतिबंधों की आंच दुनिया की सबसे बड़ी दूरसंचार उपकरण निर्माता कंपनी हुवावे तक पहुंच चुकी है। हालांकि अमेरिका ने इस चीनी कंपनी पर प्रतिबंधों में 90 दिन की छूट...

This content is for Welcome Subscription Special  offer, Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

सर्जिकल स्ट्राइक पर दो टूक (राष्ट्रीय सहारा)

भारतीय सेना द्वारा नियंतण्ररेखा के पार जाकर सर्जिकल स्ट्राइक करने के करीब ढाईसाल बाद उत्तरी कमान के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने इस बात पर अपनी मुहर लगा दी कि भारतीय सेना ने सितम्बर, 2016 को पहली बार सर्जिकल स्ट्राइक की थी। उम्मीद की जानी चाहिए कि उत्तरी कमान के प्रमुख के इस स्पष्टीकरण...

This content is for Welcome Subscription Special  offer, Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

क्या हर मुसलमान से डरें हम? (राष्ट्रीय सहारा)

स्वपनदास गुप्ता, वरिष्ठ स्तंभकार श्री लंका की तर्ज पर भारत में भी सार्वजनिक स्थलों पर बुर्के पर पाबंदी की मांग की गई थी। यह मांग शिवसेना ने की थी जो एक लंबे समय से धर्म और राज्य विशेष के साथ भय की राजनीति में सिद्धहस्त हो चुकी है। उसने कहा था कि रावण की लंका...

This content is for Welcome Subscription Special  offer, Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

उभरते समीकरणों के संकेत (राष्ट्रीय सहारा)

मध्य प्रदेश की राजनीति में विधानसभा चुनाव 2018 में 15 वर्षो बाद कांग्रेस की वापसी बड़े प्रतिस्पद्र्धी एवं अत्यंत नजदीक मुकाबले में बहुत कम अंतर से आवश्यक बहुमत से दो स्थानों की कमी के साथ हुई। चुनाव परिणाम के समय भी सबसे ज्यादा रोमांच एवं कौतुहल मध्य प्रदेश में ही बना रहा। ग्यारह दिसम्बर को...

This content is for Welcome Subscription Special  offer, Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Unseeing The Wave (The Indian Express)

Written by Coomi Kapoor Even after exit polls indicate near-unanimously that Narendra Modi will be back, some people refuse to read the writing on the wall. When it comes to elections, experts and politicians often tend to wear blinkers. Some poll watchers base their assumptions on issues which may be irrelevant on the ground. During...

This content is for Welcome Subscription Special  offer, Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

A one-sided justice (The Indian Express)

Written by Madan B Lokur Eleanor Roosevelt said: “Justice cannot be for one side alone, but must be for both.” Was justice done to the Supreme Court staffer who made two allegations on affidavit — first of unwanted physical contact by the Chief Justice of India (CJI) and second, of victimisation? For the present purposes,...

This content is for Welcome Subscription Special  offer, Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Dear Yogendra, I disagree (The Indian Express)

Written by Suhas Palshikar Yogendra Yadav’s claim, that the Congress needs to die so that the way for a new politics may be cleared, calls for a response. In these times of easy branding, arguing in favour of the continued existence of the Congress runs the risk of being ridiculed both by pro-establishment circles and...

This content is for Welcome Subscription Special  offer, Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register