Day: March 16, 2019

The jawan on the border: on BJP’s prospects in 2019 (The Hindu)

Vidya Subrahmaniam So game, set and match to Prime Minister Narendra Modi? With just over two months left for the general election verdict to come in, the predominant sense, whether in the stock market, satta bazaar, street conversations or among pollsters, appears to be that it is all over, bar the shouting. What apparently remains...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

आतंक के मददगार (अमर उजाला)

सलमान हैदर चीन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में आतंकवादी संगठन जैश-ए मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने के प्रस्ताव पर तकनीकी रोक लगा दी है। यह पहली बार नहीं है, इससे पहले भी तीन बार चीन ने मसूद अजहर को बचाने के लिए ऐसा किया है। दरअसल इस तकनीकी रोक...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

पाकिस्तानी महिलाओं का आंदोलन (अमर उजाला)

मरिआना बाबर भारत और पाकिस्तान के युद्ध के कगार से पीछे हटते ही दोनों मुल्कों के उच्चायुक्त अपने-अपने काम में लग गए और करतारपुर कॉरिडोर पर वार्ता के लिए योजनाएं बनाई जाने लगीं। इससे यह लगने लगा है कि इस उपमहाद्वीप में हालात सामान्य हो गए हैं। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर पिछले हफ्ते...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

अकथ कहानी (बिजनेस स्टैंडर्ड)

टी. एन. नाइनन देश की मौजूदा सरकार के अहम सुधारों में से एक ऋणशोधन प्रक्रिया है। इस प्रक्रिया में अब तक केवल निजी क्षेत्र को ही शामिल किया गया है। आखिर सरकारी कंपनियों को भी इसी या इस जैसी पारदर्शी और स्पष्ट निर्णय लेने वाली ऋणशोधन प्रक्रिया से क्यों नहीं गुजारा जा सकता? अगर ऐसे...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

भारतीय टेलीविजन बाजार को रफ्तार देता असली ड्रामा (बिजनेस स्टैंडर्ड)

वनिता कोहली-खांडेकर भारत में टेलीविजन देखने वालों की संख्या, उनमें मौजूद विविधता और एक ही तरह के नतीजे होने का अहसास। टेलीविजन दर्शक संख्या के बारे में आकंड़े जारी करने वाली संस्था ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (बार्क) की रिपोर्ट ‘व्हाट इंडिया वॉच्ड 2018’ देखकर इसी तरह का भाव पैदा हुआ। बार्क अपने आंकड़े देश भर...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

आर्थिक वृद्घि दर में कैसे आएगी समृद्घि? (बिजनेस स्टैंडर्ड)

नीलकंठ मिश्रा तिमाही जीडीपी आंकड़ों को लेकर चाहे जितनी भी बहस क्यों न हो लेकिन हाल ही में जारी दिसंबर तिमाही में वृद्घि दर में आई गिरावट ने शायद ही किसी को चौंकाया हो। हां, इस गिरावट का आकार अवश्य अनुमान से काफी अधिक था। बीते कई महीनों के दौरान आर्थिक गतिशीलता में कमी आई...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Vigilance is Best Bet for Social Media (The Economic Times)

The Election Commission’s reported directive to all candidates of political parties to disclose their social media accounts and include all spending on their respective social media campaigns as part of official disclosure is healthy in spirit but weak in the flesh. It only captures the candidate’s own advertising, not spots boosting the candidate paid for...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Masood Azhar, JeM: China to Pak Rescue (The Economic Times)

Putting someone on the UN terrorist list is as effective in defanging him as recognising the passenger seated next to you in a plane filled to capacity has a cold is helpful in shielding you against the virus, if the terrorist in question is from Pakistan. Hafiz Saeed, leader of the Lashkare-Taiba, is a UN-designated...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

दुर्भावना का यह खूनी खेल (हिन्दुस्तान)

कबीर तनेजा एसोशिएट फेलो ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में मस्जिदों में हुई गोलीबारी की घटना ‘अति दक्षिणपंथी विचारधारा’ के दुनिया भर में पांव पसारने का सुबूत है। खासतौर से विश्व में ‘श्वेत श्रेष्ठता ग्रंथि’ को लेकर एक अलग तरह का माहौल बन गया है, जो अश्वेतों के पुरजोर खिलाफ है। यह ग्रंथि गैर-श्वेतों...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register