Day: March 11, 2019

आम पाकिस्तानी भारत जैसा लोकतंत्र चाहते हं, देश रक्तपात और सेना प्रायोजित आतंकवाद से नहीं चलते (दैनिक जागरण)

[ हृदयनारायण दीक्षित ]: कृत्रिम में प्राकृतिक सौंदर्य नहीं होता। अप्राकृतिक में प्राकृतिक गुणसूत्र नहीं होते। राष्ट्र गठन का आधार सांस्कृतिक तत्व होते हं। पाकिस्तान स्वाभाविक राष्ट्र नहीं है। पुलवामा और बालाकोट की घटनाओं के बाद पाकिस्तान की मानसिकता अंतरराष्ट्रीय विवेचन का विषय बनी है। भारत में पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लग रहे हं। पाकिस्तान...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

कश्मीर मुद्दे का अंतर्राष्ट्रीयकरण (पंजाब केसरी)

‘भारतीय स्वतंत्रता अधिनियम 1947’ में प्रावधान था कि अंग्रेज भारतीय रियासतों को स्वतंत्र छोड़ कर जाएंगे। अपेक्षा यही थी कि वे अपना विलय भारत या पाकिस्तान में कर लेंगी। वे अविभाज्य थीं और भारत तथा पाकिस्तान के नेता भी धार्मिक आधार पर किसी रियासत का विभाजन नहीं चाहते थे। अंग्रेजों ने भौगोलिक कारकों को विलय...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

A 900-million strong electorate makes Elections 2019 the biggest ever (Livemint)

S.Y. Quraishi At last, the dates are out for Elections 2019. This would be the biggest election in world history, with over 900 million registered voters, out of which 15 million are aged 18-19. The total electorate is more than the population of every continent. The logistics are mind-boggling. There will be nearly one million...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

In Andhra, only regional parties are in the fray (Livemint)

In 2014, both the assembly and the parliamentary elections were held just before the bifurcation of Andhra Pradesh. The bifurcation of the state to form Telangana was the dominant issue in determining the election results. In the ensuing polls, it was a triangular contest between the Telugu Desam Partry (TDP)-Bharatiya Janata Party (BJP) alliance supported...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

पिछले सप्ताह की कुछ जरूरी बातें (प्रभात खबर)

रविभूषण, वरिष्ठ साहित्यकार पिछले सप्ताह सुप्रीम कोर्ट में दो बड़े मामलों- राफेल सौदे और अयोध्या विवाद पर सुनवाई हुई, जिसमें राफेल मामले पर हुई सुनवाई कई दृष्टियों से बेहद महत्वपूर्ण है. आठ फरवरी, 2019 को ‘दि हिंदू’ अखबार ने राफेल पर जो पहली खोजी रिपोर्ट प्रकाशित की थी, वह पिछले सप्ताह की एक और रिपोर्ट...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

बातचीत से सुलह (पत्रिका)

देश की शीर्ष अदालत ने अयोध्या भूमि विवाद में शामिल पक्षों के बीच सुलह वार्ता का आदेश अभी मुल्तवी रखा है। अभी यह तय नहीं है कि क्या अदालत अपने नियंत्रण में सुलह वार्ता के जरिये आधी सदी से चल रहा विवाद सुलझाने का विकल्प चुनती है या भूमि के मालिकाना हक को मौजूदा कानूनों...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

कारोबार से बड़ी भावना (पत्रिका)

अमरीका ने भारत को व्यापार में तरजीह देने वाले देशों की सूची से बाहर कर दिया है। बताया जा रहा है कि इसके पीछे वजह डेयरी उत्पाद हैं। वे डेयरी उत्पाद, जिनके आयात से भारत ने इनकार कर दिया है। इसकी वजह है। सरकार ने साफ किया है कि अमरीका के डेयरी उत्पादक अपने उत्पादों...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

अनुचित दबाव के आगे न झुके भारत (पत्रिका)

अश्विनी महाजन, आर्थिक मामलों के जानकार पिछले कुछ समय से डॉनल्ड ट्रंप प्रशासन भारत सरकार से आर्थिक मुद्दों पर नाराज चल रहा था, पर अमरीकी प्रशासन ने अचानक भारत से जनरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रफेरेंसेस (जीएसपी) ट्रेड स्टेटस 60 दिन के भीतर वापिस लेने की घोषणा कर चौंका दिया। गौरतलब है कि भारत और कुछ अन्य...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

हिंसा की जमीन (जनसत्ता)

किसी भी सभ्य समाज में हिंसा की कोई जगह नहीं होनी चाहिए। मगर लोकतांत्रिक गणराज्य होने के बावजूद हमारे यहां जाति, धर्म, समुदाय, भाषा, क्षेत्रीयता, आदि के मसलों पर अक्सर लोग हिंसक हो उठते हैं। मामूली अफवाहों के चलते भी हिंसा की घटनाएं होती रहती हैं। और जब बात देशप्रेम की हो, तो लोग कुछ...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

संदेश और सवाल (जनसत्ता)

नीरव मोदी के महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में समुद्र किनारे बने बंगले को डायनामाइट से उड़ा दिया गया है। इस कार्रवाई से यह संदेश देने की कोशिश की गई है कि घोटालेबाज बख्शे नहीं जाएंगे। उनकी संपत्ति जब्त होगी, जब्त सामान और जायदाद बेच कर पैसे निकलवाए जाएंगे। सौ करोड़ रुपए का यह बंगला इसलिए...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register