Day: February 25, 2019

हिमालयी ग्लेशियरों पर संकट के खतरे (दैनिक ट्रिब्यून)

मुकुल व्यास मनुष्य की गतिविधियों से उत्पन्न जलवायु परिवर्तन से न सिर्फ ग्रीनलैंड और अंटार्कटिका जैसे ठंडे स्थान संकट में हैं बल्कि हिमालय को भी खतरा है। एक नई रिपोर्ट के मुताबिक यदि ग्लोबल वार्मिंग जारी रही तो इस सदी के अंत तक हिमालय के दो-तिहाई ग्लेशियर पिघल जाएंगे। ग्लेशियरों के पिघलने से एशिया की...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

करुणा-सेवाभाव से सर्वोत्तम विजेता (दैनिक ट्रिब्यून)

सीताराम गुप्ता वर्ष 1988 में सियोल ओलंपिक में पदक हासिल करने के लिए लॉरेंस लेम्यूक्स एक दशक से भी अधिक समय से प्रशिक्षण ले रहे थे। निरंतर कठिन अभ्यास कर रहे थे। आखिर वह घड़ी आ पहुंची जब लॉरेंस लेम्यूक्स का सपना साकार होने में थोड़ा-सा ही समय शेष रह गया था। लॉरेंस लेम्यूक्स के...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

यह दुख भी सुनें (नवभारत टाइम्स)

चौबीस राज्यों और दो सौ जिलों से होते हुए दस हजार किलोमीटर पैदल चलकर शुक्रवार को राजधानी दिल्ली पहुंची ‘गरिमा यात्रा’ की भूमिका भारत में यौन हिंसा को लेकर जागरूकता फैलाने में किसी प्रकाश स्तंभ जैसी होनी चाहिए, जो हजारों महिलाएं इस यात्रा में शामिल हुईं वे किसी न किसी रूप में यौन हिंसा का...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

प्रदूषण -गर्भ में मिल रही बीमारियां (राष्ट्रीय सहारा)

मोनिका शर्मा दमघोटू हवा के मामले में भारत के हालात भयावह हो चले हैं। हवा में घुल रही जहरीली गैस के कारण सांस लेने के लिए स्वस्थ वायु महानगरों में ही नहीं दूरदराज के गांवों-कस्बों में भी नहीं बची है। बीते कुछ सालों में प्रदूषण के अत्यधिक खतरनाक स्तर की वजह से अब इंसानी डीएनए...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

समय बदल रहा है (राष्ट्रीय सहारा)

बहुत सारे लोग भौंचक्क हैं। एक साथ सशस्त्र पुलिस बल की 100 कंपनियां सीधे वायुयान से कश्मीर घाटी में कुछ घंटों के अंदर उतारी गई हैं। पिछले तीन दशक से जारी आतंकवाद की अवधि पर नजर रखने वाले इसको अभूतपूर्व कदम कह रहे हैं क्योंकि ऐसा पहले नहीं हुआ। ध्यान रखिए, पहले से तैनात सेना...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Geopolitics makes it difficult for India to isolate Pakistan diplomatically (The Indian Express)

Written by Ayesha Siddiqa Imran Khan was in no hurry to respond to India’s allegations on Pakistan’s role in the Pulwama incident. He delivered a speech on February 19 — five days after the incident and after the Crown Prince of Saudi Arabia left Pakistan. While it is true that he didn’t want Pakistani and...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

On the ground, SC ruling on Section 66A is frequently violated (The Indian Express)

Written by Apar Gupta, Abhinav Sekhri In October 2018, we published a small study revealing how Section 66-A of the Information Technology Act 2000 [“IT Act”] continued to be used to prosecute persons despite being struck down by the Supreme Court as unconstitutional in Shreya Singhal (2015). We suggested that this afterlife was not merely...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Subscriber holds the remote, and the keys (The Indian Express)

Written by R. S. Sharma You can have it in any colour you want, as long as it is black. — Henry Ford on Ford Model-T The customer is king. And the king has a good life, but only when he is allowed to rule. Unfortunately, till today, the broadcasting sector was ruled by broadcasters,...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

In Good Faith: Gandhi and the varna question (The Indian Express)

Written by K.P. Shankaran Gandhi, to this day, remains an enigma. While millions across the world revere him as a saint, there are countless others only too willing to condemn him as a racist and casteist. The truth is that Gandhi was an ordinary mortal, with failings and weaknesses, extraordinary only in his determination to...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

अयोध्या में राम जन्मभूमि विवाद के मामले पर शीघ्र सुनवाई की उम्मीद! (दैनिक जागरण)

[प्रभाकर मिश्र]। अयोध्या जमीन विवाद मामले में एक बार फिर सुनवाई की तारीख तय हुई है। मुख्य न्यायाधीश की अगुवाई वाली पांच सदस्यीय संविधानपीठ 26 फरवरी को इस मामले पर सुनवाई करेगी। उस दिन कोर्ट यह तय कर सकता है कि सुनवाई कब से होगी और कैसे होगी, नियमित होगी या नहीं। अयोध्या मामले पर...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register