Day: February 8, 2019

जल एक ज्वलंत मुद्दा बने (प्रभात खबर)

अजीत रानाडे सीनियर फेलो, तक्षशिला इंस्टिट्यूशन अगले आम चुनाव हमसे अब भी तीन महीने दूर हैं. चुनाव विशेषज्ञ बताते हैं कि आम चुनाव का मुद्दा हमेशा ही अर्थव्यवस्था से संबद्ध हुआ करता है. हाल के केंद्रीय बजट ने किसानों एवं निम्नतर आयकर दाताओं को उदार राहत मुहैया की है, पर केवल वक्त ही यह बता...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

अवैध इमिग्रेशन पर लगे रोक (प्रभात खबर)

अभिषेक कुमार, टिप्पणीकार विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर देश में ही हजारों लोग ठगे जाते हैं. कबूतरबाजी यानी अवैध इमिग्रेशन के शिकार इन्हीं लोगों में से कुछ लोग जब किसी तरह विदेश पहुंच जाते हैं, तो वहां उनके रोजगार से लेकर जिंदगी तक का कोई ठिकाना नहीं होता. ताजा घटनाक्रम अमेरिका में खड़ी...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

नए भारत का निर्माण करेगा यह बजट: नितिन गडकरी (पत्रिका)

नितिन गडकरी, केंद्रीय सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री अर्थव्यवस्था की सबसे बड़ी ताकत किसान हैं लेकिन इन दिनों उनकी स्थिति मुश्किल बनी हुई है। इनकी समस्या के पीछे वैश्विक स्थिति भी जिम्मेदार है। ऐसे में उनको आर्थिक संबल देने के तरीकों को लेकर लंबे विचार के बाद आखिर सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। सरकार...

This content is for Half-yearly Subscription, Yearly Subscription and Monthly Subscription members only.
Log In Register

अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के प्रयास नहीं: कमलनाथ (पत्रिका)

कमलनाथ मुख्यमंत्री, मध्यप्रदेश यह बजट जुमलों, वादों और आंकड़ों की बाजीगरी से भरा है। सही मायनों में यह अगला बजट आने तक के लिए लेखानुदान है। पर इसे बड़ी चतुराई से पूर्ण बजट की तरह पेश कर मतदाताओं को लुभाने की कोशिश है। भाजपा को खुद यह विश्वास नहीं है कि वह फिर सत्ता में...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

न्यायपालिका की सीख (पत्रिका)

सारदा चिट फंड मामले में चल रही सीबीआइ जांच में पिछले दिनों केंद्रीय जांच एजेंसी, पश्चिम बंगाल सरकार तथा वहां की पुलिस के बीच बने दुर्भाग्यपूर्ण हालात को जिस प्रकार उच्चतम न्यायालय ने संभाला है, उससे इस न्यायिक संवैधानिक संस्था पर आम जन का भरोसा पुख्ता हुआ है। सुप्रीम कोर्ट ने जो फैसला दिया, उससे...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Mamata’s Power Play (TOI)

SC order on CBI standoff in Bengal gives face saver to both BJP and MamataNalin Mehta Not since when Delhi LG Najeeb Jung sent hot parathas to a protesting Arvind Kejriwal as the latter signed chief ministerial files on the street and huddled under a quilt outside Delhi’s Rail Bhavan in 2014, has a political...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

संपादकीय: आखिर सहमति (जनसत्ता)

सबरीमला मंदिर का संचालन करने वाले त्रावणकोर देवस्वओम बोर्ड ने आखिरकार सर्वोच्च न्यायालय के आदेश का पालन करने पर सहमति जताई है। बोर्ड की तरफ से पेश हुए वकील ने संविधान में वर्णित सभी व्यक्तियों के धर्म पालन के समान अधिकार का उल्लेख करते हुए स्वीकार किया कि किसी वर्ग विशेष के साथ उसकी शारीरिक...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

संपादकीय: राहत भरा कदम (जनसत्ता)

रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति ने नीतिगत दरों में कमी कर इस बात का संकेत दिया है कि महंगाई अब काबू में है, मुश्किलों का दौर खत्म हो रहा है और अर्थव्यवस्था के लिए आने वाले दिन अच्छे होंगे। मौद्रिक नीति समिति की तीन दिन तक चली बैठक के आखिरी दिन इस बात के...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Still partisan: On Trump’s State of the Union address (The Hindu)

In his second State of the Union address, President Donald Trump demonstrated the capacity to step back from his polemical debating style on social media without yielding ground to his detractors on matters of domestic policy at the top of his agenda. These include immigration, jobs for Americans, and conservative values including the pro-life movement....

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register

Growth prop: On RBI repo rate cut (The Hindu)

Barely four months after the Reserve Bank of India switched its monetary policy stance to one of ‘calibrated tightening’, signalling interest rates were set to trend higher, it has reversed direction. Not only did the RBI’s monetary policy committee unanimously opt to revert to a ‘neutral’ posture, but the rate-setting panel unexpectedly decided, by a...

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register