अरावली की बलि (दैनिक ट्रिब्यून)


अरावली पहाड़ियों व वन्यक्षेत्र की रक्षा की जिम्मेदारी जिस हरियाणा सरकार पर थी, उसने अंग्रेजों के ज़माने के 120 साल पुराने संरक्षक कानून को ही बदल डाला। पीएलसीए यानी पंजाब हरियाणा भू-परिरक्षण विधेयक-2019 को बजट सत्र के आख़िरी दिन विधानसभा से पारित कराकर ही मानी मनोहर सरकार। विपक्ष के भारी विरोध और पर्यावरण की अनदेखी…


This content is for Monthly Subscription members only.
Log In Register


Updated: March 1, 2019 — 6:49 AM