बांध, पर्यावरणीय विनाश के प्रतीक (राष्ट्रीय सहारा)

ज्ञानेन्द्र रावत बांधों से हो रहे पर्यावरण विनाश को लेकर बरसों से पर्यावरणविद चेता रहे हैं, लेकिन हमारी सरकार उनकी बातों को बराबर अनसुना करती रही है और बांधों को विकास का प्रतीक बताने का ढिंढोरा पीट रही है जबकि असलियत इसके उलट है। कैग की रिपोर्ट ने कई साल पहले यह साबित भी कर…

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register
Updated: February 9, 2019 — 1:29 pm