सत्रहवीं लोकसभा का भविष्य : लंबे समय से सदन का चेहरा बने कई बड़े नेता इस बार नहीं होंगे (अमर उजाला)

अवधेश कुमार सत्रहवीं लोकसभा का सत्र आरंभ हो गया है। सोलहवीं लोकसभा से एकदम आमूल अंतर तो नहीं आया है, पर इस बार तस्वीर थोड़ी अलग होगी। हो सकता है कि इस बार लोकसभा का चित्र थोड़ा भिन्न हो। सोलहवीं लोकसभा के अंतिम दो वर्षों में राजनीति इतनी हावी हो गई थी कि अनेक महत्व…

This content is for Monthly Subscription, Half-yearly Subscription and Yearly Subscription members only.
Log In Register
Updated: June 18, 2019 — 6:52 PM